Get Your Free Audiobook

  • Dil Aur Dimag Ke Beech Taalmel [Synergy Between Heart and Mind]

  • Sikke Ke Do Pahalu [Two Sides of the Coin]
  • Written by: Sirshree
  • Narrated by: Sirshree
  • Length: 1 hr and 58 mins
  • Unabridged Audiobook
  • Categories: Parenting & Relationships, Self-Help
  • 3.0 out of 5 stars (1 rating)

Listen with Audible free trial

₹199.00/month

1 credit a month to use on any title to download and keep
Listen to anything from the Plus Catalogue—thousands of Audible Originals, podcasts and audiobooks
Download titles to your library and listen offline
₹199 per month after 30-day trial. Cancel anytime.
Buy Now for ₹350.00

Buy Now for ₹350.00

Pay using card ending in
By confirming your purchase, you agree to Audible's Conditions of Use and Amazon's Privacy Notice.

Publisher's Summary

दिल और दिमाग का सही उपयोग

इंसान के दिल और दिमाग में अकसर घमासान युद्ध चलता रहता है। इसका कारण है, इन दोनों में ताल-मेल की कमी। जिस कारण जीवन में फैसले लेते समय या रिश्ते निभाते वक्त दिल और दिमाग दुविधा की स्थिति उत्पन्न करते रहते हैं क्योंकि दिल अपना तर्क देता है और दिमाग अपना। दोनों के तर्क-वितर्क में किसकी सुनें? किसके निर्णय को अमल में लाएँ? किसकी जीत हो? ये बड़े पेचीदा प्रश्न हैं।

यह पुस्तक आपको दिल और दिमाग की कश्मकश मिटाकर, उन्हें तालमेल के एक धागे में पिरोने की प्रेरणा देती है। इतना ही नहीं बल्कि कौन से समय पर दिमाग की सुनें, कहाँ दिल की और कहाँ दोनों के मेल से निर्णय लें, यह चुनाव करना आपके लिए सहज होगा। इस पुस्तक में दिए गए सात कदमों को जीवन में उतारकर, आप अपने दिमाग की मज़बूरी मिटाकर दिल को राज़ी कर पाएँगे। वे सात कदम इस प्रकार हैं-

  1. जुबान के शब्द और दिमाग के विचारों के बीच तालमेल बिठाएँ
  2. धीरज के धनवान बनकर हर घटना को पूरा देखें 
  3. नाभी (अपने अंदर के बच्चे) से जुड़ें ताकि हृदय से जुड़ पाएँ 
  4. हर घटना में उठनेवाली भावनाओं को तटस्थ होकर सही ढंग से समझें और उनका स्वीकार कर आगे बढ़ें
  5. पुराने दायरे से बाहर आकर सोचें यानी ‘आउट ऑफ बॉक्स थिंकिंग’ करने की कला सीखें
  6. बेहोशी में डालनेवाले लोगों से न जुड़ें ताकि होश में रह पाएँ।
  7. अपने होने के बोध से जुड़कर हृदय की पूर्णता प्राप्त करें।

Please note: This audiobook is in Hindi.

©2020 Tejgyan Global Foundation (P)2020 Tejgyan Global Foundation

What listeners say about Dil Aur Dimag Ke Beech Taalmel [Synergy Between Heart and Mind]

Average Customer Ratings
Overall
  • 3 out of 5 stars
  • 5 Stars
    0
  • 4 Stars
    0
  • 3 Stars
    1
  • 2 Stars
    0
  • 1 Stars
    0
Performance
  • 5 out of 5 stars
  • 5 Stars
    1
  • 4 Stars
    0
  • 3 Stars
    0
  • 2 Stars
    0
  • 1 Stars
    0
Story
  • 0 out of 5 stars
  • 5 Stars
    0
  • 4 Stars
    0
  • 3 Stars
    0
  • 2 Stars
    0
  • 1 Stars
    0

Reviews - Please select the tabs below to change the source of reviews.

No Reviews are Available